Some Dark side of News Channel-Hindi Kahani

Some Dark side of News Channel-Hindi Kahani

News Channel


हम खबरे देखते है,हम खबरे सुनते है,जिसके कारण हम दुनिया के बारे मे जानते है । अर हमे बो खबर पहनचती है कुछ अखबार,   कुछ  News channel अर कुछ social media से । हां हमको हर दिन  देश दुनिया की खबर भी जानना जरूरी होता है, जो की हमारे mind को भी fresh रखता है  । पर क्या करे आज कल tv मे News Channel देख के खबर जानना भी एक headache है ।

हमारे 4 th स्तम्भ कहने वाले कुछ मीडिया इतना नीचे गिर गए है जिसके कारण लोग News Channel खोलने को डर रहे है । media का काम है देश दुनिया के खबर हम तक पहचाना,पर मीडिया देश दुनिया का खबर क्या दिखेगा आपस मे भीड़ राहा है दूसरे मीडिया कंपनी से । मन है  competition का दुनिया है पर आपस से भीड़ने से अगर अच्छा अर सच news अपना channel मे दिखाएंगे तो लोक भी प्रसंशा करंगे । पर एसा होता नहीं क्यूँकी अभि के समय मे भारत मे बहत सारे न्यूज चैनल हो गया है अर ऊपर उठने केलिए दूसरे media के तंग खिचेंगे,controvercy पेदा करंगे तो ज्यादा viral होगा तो चैनल चलेगा ।

News Type

दुनिया तो politics से चल रही है तो News Channel केसे नहीं चलेगा पॉलिटिक्स के दम पे । अभि के टाइम मे दो प्रकार के न्यूज चैनल देखने को मिलते है  एक सरकार के सपख्य मे अर एक सरकार के बिपख्य मे । जो न्यूज चैनल सरकार के सपोर्ट मे न्यूज बनाते है बो सिर्फ सरकार कितने प्रगति किया बताते है  अर दूसरा टाइप बाले जिस party का सरकार है क्या क्या गलत किया बही ही दिखते है ।

Political Fight

आज कल हर कोई News Channel मे आप एक चीज देखते होंगे । एक मुद्दा पकड़ते है, 4 से 5 राजनीति पार्टी को एक साथ बेथ कर fight करबाते है । कभी कभी तो एस होता है live tv मे slang word का भी use कर देते है ।

Controversy

News Channel का कोई चीज मे बीबाद पेदा करना आम बात हो गया है अभि के समय मे । कोई चीज पकड़ो सही हो या गलत हो बकते चलो अगर गलत है तो लोग गाली देंगे अर लोग प्रभाबीत होंगे । यहाँ तक की कुछ News के वजह से कुछ लोगों का ज़िंदेगी बर्बाद हो जाता है ।

Repeated Content

अभी के समय मे News Channel मे Repeated Content आता रहता है । कोई एक खबर मिल गया तो दिन भर एक ही news को दिखाते रहते है । जिसके कारण लोग बोर हो जाते है ।

Trp Race

Competition का दुनिया है भाई हर कोई चाहता है अपना Business का growth हो । News channel भी प्राइवेट मालिकों के हाथ मे होता है । इसीलिए हर कोई Channel के मालिक चाहता है उसका चैनल आगे हो ।इसीलिए आगे no.1 position को आने केलिए हर कोई तरीका अपनाते है ।  

Conclusion

अंतिम मे ये कहना चाहूँगा हर News Channel हमारे संबिधान का 4 th pillor होते है । इसीलिए सारे चैनल को सिर्फ अपना growth को ध्यान ना देके अच्छे अर सच्चे खबर लाना चाहिए । मे इस Article मे किसी भी News Network को अखेप करके नहीं कह राह हूँ ।

Post a Comment

0 Comments