A heart touching love story-एक अनोखा प्रेम काहानी-Hindi kahani

A heart touching love story-एक अनोखा प्रेम काहानी-Hindi kahani 

heart touching love story


बहत साल पहले उत्तर भारत के एक अरण्य मे एक आदमी कुटीर बना के रह राहा था उसका नाम श्याम था  । बो खुसी से अपना जीबन जापन करता था बो सब मोह माया से दूर था अर उसका बाहरी जगत से संपर्क नहीं था। दरअसल बात ये था की जब श्याम छोटा बच्चा था तब उसका माता पिता के साथ जंगल को लकड़ी लेने केलिए आया था तब बो उसका माता  पिता से बिछड़ गया था । उसका जीबन बचपन से बहत कठिन था फिर भी सारे चुनोती को सामना करना धीरे धीरे सिख गया अर बो जंगल मे रहने लगा अर कोई  जिबजन्तु भी उसे  आघात नहीं देते थे सभी उसका मित्र थे ।

श्याम  सुबह उठता जंगल मे इधर उधर खाना ढूनता इसिलिए उसको जंगल की सारी जगह पता था । एक दिन अचानक बो खाना ढूंढ राहा था तब देखा एक लड़की पेड़ के नीचे बेठ के रो रही थी अर बो लड़की बहत डरी हुई थी । श्याम को सहरी लोगों से बात करने का कोई आदत नहीं था फिर भी उस लड़की के पास को गया तो लड़की अचानक से श्याम को डर के मारे पकड़ने लगा तो ये श्याम को अच्छा नहीं लगा अर लड़की से दूर खड़ा होने लगा । तब लड़की ने बोली “कृपया मुझे बचालो मेरा नाम माया है,मे मेरे परिबार के साथ पिकनिक मनाने केलिए इस जंगल मे आई थी,अर मे उनसे बिछड़ गई हूँ” ।लड़की क्या बोल रही थी बो बात श्याम को समझ मे नहीं आ रहा था फिर भी श्याम को पता था की बो लड़की मुसीबत मे हे ।heart touching love story

उस दिन साम होने बाला था अर अंधेरा होने से पहले श्याम को अपना कुटीया को लौटना था । उस लड़की को क्या करे समझ मे नहीं आ राहा था श्याम को  । कुछ समय के बाद श्याम अपना कुटीर की तरह लड़की को लेके चलने लगा । कुछ समय के बाद बो दोनों श्याम के घर को पहनच गए पर क्या करे लड़की का आदत नहीं था जंगल मे रहने का बो डर के मारे हमेसा रोति रहती थी अर बो दोनों बात भी नहीं करसकते क्यूँकी कोई किसका भाषा नहीं समझ पाता था । माया को देखके श्याम को बचपन की याद आने लगा थोड़ा थोड़ा जो की बहत दर्दनाक था । रात गया सुबह हो गया । सुबह होते होते माया जंगल मे भागने लगि जबतक श्याम उठा तब तक माया कुटीया से भाग चुकी थी । श्याम भी लड़की को ढूनने लगा ढूनते ढूनते उसको माया की आवाज सुनाई दी । माया एक घाई मे गिर गई थी अर चिल्ला रही थी फिर श्याम माया को बचा लिया । इसके बाद माया को श्याम के प्रति थोड़ी थोड़ी प्रेम होने लगा । सुबह से दोपहर हो गया था तब जाके बो जंगल से बाहर निकल पाए। उसके बाद अर क्या दोनों बिछड़ गए,माया अपनी घर चली गई अर श्याम जंगल । heart touching love story

दो दिन के मिलने से थोड़ी ना प्यार हो जाता है पर क्या करे माया को श्याम के प्रति प्यार हो गया था पहले से ही,अर श्याम भी माया से बिछड़ने के बाद उसको याद करने लगा हमेशा । पर केसे संभब है एक जंगली आदमी के साथ एक सहरी लड़की का प्रेम । पर भाई प्रेम अंधा होता है । माया को ना भूक ना चेन सिर्फ श्याम को याद करती  थी । ये बात वो अपनी माता पिता से बतायी तो बो लोग मना करदीए,हां भला केसे करते । एक दिन माया घर से निकल गया श्याम से मिलने केलिए,तो बो एक चीज देखा जो माया को बिस्वास नहीं हुआ जेसे वो तड़प रही  थी श्याम केलिए बेसे श्याम हर दिन उस जगह को आके माया को इंटेजर करता है कहीं माया आजाए यहाँ पर । उस दिन सच मुच माया को देख के उसका खुसी का ठिकाना नहीं राहा । वो दोनों मिलके बहत खुस थे । ये देख के माया के माता पिता ने दोनों के सादी करदी अर दोनों को घर को ले गए । अब बो दोनों खुसी से रेह रहे हे।heart touching love story

ये था श्याम अर माय का एक अनोखा प्रेम कहानी ।

heart touching love story

Post a Comment

0 Comments